चाय में विष घोलकर किया दोहरा कत्ल” फिर खुद ने की खुदकुशी”

ख़बर शेयर करें -

चाय में विष घोलकर किया दोहरा कत्ल” फिर खुद ने की खुदकुशी”

 

उधम सिंह राठौर –  प्रधान संपादक

 

आगरा के लॉयर्स कॉलोनी में मैनेजर तरुण उर्फ जॉली ने बुजुर्ग मां ब्रजेश देवी और बेटे कुशाग्र को चाय में विषाक्त घोलकर दिया था। दोनों की जब तक सांसें नहीं थम गईं, तब तक सिगरेट के कश लगाता रहा। मां-बेटे की तड़पते हुए जान निकलने के बाद खुद भी फंदा बना लिया।

यह भी पढ़ें 👉  किराए के मकान में चल रहा था देह व्यापार, पुलिस ने दबिश देकर महिला सरगना एवं ग्राहक समेत 04 गिरफ्तार, एक महिला को किया मौके से किया रेस्क्यू।

 

 

पुलिस ने घटनास्थल पर जांच की तो हालात यही बयां कर रहे थे। हालांकि दादी और पौत्र की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण पता नहीं चला है। विसरा सुरक्षित रखा गया है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। एक तरफ मां की जिंदगी छीन ली तो दूसरी तरफ कुलदीपक बुझा दिया।

एसीपी सैयद अरीब अहमद ने बताया कि तीनों मौतों के बाद घर में जांच के लिए फील्ड यूनिट को बुलाया गया था। टीम ने साक्ष्य संकलन किया। घर में संघर्ष के निशान नहीं मिले। भूतल पर किचिन के पास बने कमरे में बुजुर्ग ब्रजेश देवी बिस्तर पर सोने वाली अवस्था में मिलीं। उनके कमरे में एक खाली गिलास और थायराइड की गोली मिलीं।  वहीं पौत्र कुशाग्र पहली मंजिल पर बने अपने कमरे में बेड पर पड़ा था। उसके ऊपर चादर पड़ी थी। दोनों हाथों के नाखून नीले पड़े हुए थे। मुंह से उल्टी भी हुई थी। उल्टी फर्श पर गिरी थी। इसे साफ कर दिया था। मगर, चादर पर लगी रह गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  शिक्षक को आर्मी अधिकारी बनाकर ठगा: साइबर ठगों ने 20 लाख रुपये की ठगी।

 

 

कमरे में एक गिलास में थोड़ी चाय थी। पास में एक कटोरी थी। उसमें कई सारे सिगरेट के जले हुए टुकड़े पड़े थे। इसके अलावा कमरे में खाने की कोई चीज नहीं मिली। सीढि़यों के पास कमरे में तरुण रस्सी से बने फंदे पर लटका हुआ था।
error: Content is protected !!