नामांकन रद्द होने के भय में हंगामा: दीपक मंडेला का धूमधाम से पुनः नामांकन”

ख़बर शेयर करें -

नामांकन रद्द होने के भय में हंगामा: दीपक मंडेला का धूमधाम से पुनः नामांकन”

 

उधम सिंह राठौर – प्रधान संपादक

 

खटीमा के हेमवती नंदन बहुगुणा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में एनएसयूआई प्रत्याशी दीपक मंडेला के द्वारा नामांकन रद्द होने के भय के चलते दिनभर किए गए भारी भरकम हंगामे के बाद स्थानीय प्रशासन के द्वारा शनिवार शाम तक नामांकन प्रक्रिया पूरी कर ली गई। ज्ञात होगी अपना नामांकन निरस्त किए जाने की आशंका के चलते एनएसयूआई के प्रत्याशी दीपक मंडेला महाविद्यालय की छत पर चढ़ गए थे।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से राज्यसभा के लिये निर्वाचित महेन्द्र भट्ट ने भेंट की,  मुख्यमंत्री उन्हें बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

 

 

बीते वर्ष 2022 में दीपक के खिलाफ एसटीएससी एक्ट के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत किया गया था। जो कि अभी तक न्यायालय में विचाराधीन है जिसको लेकर एबीबीपी से अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अशर्फी लाल के द्वारा दीपक मंडेला के नामांकन पर आपत्ति दर्ज कराई गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  "हल्द्वानी क्षेत्रान्तर्गत कर्फ्यू का समापन: वनभूलपुरा क्षेत्र में धारा-144 के अंतर्गत लगाए गए कर्फ्यू के आदेश समाप्त"

 

 

 

जिसको रोकने के उद्देश्य से दीपक मंडेला महाविद्यालय की छत पर चढ़ गए और विद्यालय प्रशासन को आत्महत्या की चेतावनी देने लगे। घटना की सूचना होने पर मौके पर पहुंचे उप जिलाधिकारी रविंद्र सिंह बिष्ट ने विद्यालय प्रशासन एवं छात्र नेताओं से मुलाकात कर मामले को सुलझाने का प्रयास किया। इसके बाद पहले तो एनएसयूआई के प्रत्याशी दीपक मंडेला का नामांकन रद्द किया गया और बाद में एनएसयूआई की ओर से नए प्रत्याशी रोहित गंगवार का नामांकन दर्ज कराया गया।

यह भी पढ़ें 👉  "मतदान के लिए सुविधाएं: हल्द्वानी में मुख्य निर्वाचन अधिकारी के निर्देशों के तहत जागरूकता शिविर

 

 

इस मौके पर पूर्व प्रत्याशी दीपक मंडेला के साथ उनके समर्थन में मौके पर पहुंचे कांग्रेसी विधायक भुवन कापड़ी ने भी प्रशासन द्वारा की गई मनमानी के विरोध में अपनी आपत्ति दर्ज कराई।

error: Content is protected !!