बाघो की संख्या में बढ़ोतरी से खुशी की लहर, क्षेत्र मे घूमने के लिए आने वाले सैलानियों को बाघों के अच्छे से होंगे दीदार: प्रकाश चन्द्र आर्य

ख़बर शेयर करें -

बाघो की संख्या में बढ़ोतरी से खुशी की लहर, क्षेत्र मे घूमने के लिए आने वाले सैलानियों को बाघों के अच्छे से होंगे दीदार: प्रकाश चन्द्र आर्य

 

उधम सिंह राठौरप्रधान संपादक

 

उत्तराखंड के विश्व प्रसिद्ध जंगलों में एक तरफ जहां टाइगर की संख्या में लगातार इजाफा होने लगा है तो दूसरी ओर बाघिन और बाघिन के शावक यानी बेबी बाघ पर खतरा मंडराने लगा है। और यह खतरा किसी और का नहीं बल्कि बाघ का ही खतरा है दरअसल इस मौसम में बाघ और बाघिन के बीच मेटिंग का सिलसिला शुरू हो जाता है और बाघिन प्रेग्नेंट होने के बाद 2 साल तक अपने बच्चों के साथ रहती है और मेटिंग नहीं करती। जिससे बाघ नाराज होकर बाघ अपने शावक पर ही हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार देता है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर महाविद्यालय में हरेला पर्व पर वृक्षारोपण

 

 

 

और जिनको बचाने के लिए बाघिन या तो अपने बच्चों को लेकर कहीं दूर जंगलों में छुप जाती है ताकि बाघ की नजरों में ना आए या फिर बाघ को गुमराह करने के लिए फेक मेटिंग भी करती है। जिस बाघ उसके बच्चों पर किसी भी तरीके का हमला न करें। और बाघ और बाघिन के इन्हीं संघर्ष के बीच जिम्मेदारी बढ़ जाती है। जंगलों के रखवालों की क्योंकि जंगल के रखवालो को बाघ और बाघिन के साथ-साथ शावको की भी हिफाजत करनी होती है।

यह भी पढ़ें 👉  हरेला पर्व के लिए वृक्षारोपण कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार: जिलाधिकारी वंदना सिंह।

 

 

 

ताकि जंगलों में बाघों की संख्या में इजाफा हो और सैलानियों को आसानी से बाघो के दीदार भी हो जाए। इसी को लेकर वन विभाग अलर्ट पर है। और इन बिग कैट फैमिली के सदस्यों की जान की हिफाजत के लिए बारीकी से नजरे बनाए हुए हैं ।

 

 

 

तराई पश्चिमी डिविजन के डीएफओ प्रकाश चंद्र आर्य ने बताया कि हमारे डिवीजन में 53 मेल फीमेल बाघ हैं और दो बाघिन ने बच्चों को जन्म दिया है और एक बाघिन प्रेग्नेंट है। क्षेत्र में बाघ मेटिंग के लिए घूम रहा है। जिसके हिफाजत के लिए हमारे द्वारा टीमों को अलर्ट कर दिया गया है। बाघ और बाघिन की छोटी बढ़िया गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। और जल्दी क्षेत्र मे घूमने के लिए आने वाले सैलानियों को बाघों के अच्छे से दीदार होंगे इतना ही नहीं जंगलों में खेलते कूदते शावक भी देखने को मिलेंगे।

error: Content is protected !!